हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है? - Hindi me nibandh kaise likhe

अगर आप हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है? Hindi me nibandh kaise likhe  (How to write essay in Hindi?) जानना चाहते हैं तो आज किस आर्टिकल में मैंने इसके बारे में पूरी जानकारी दी है।

अगर आप स्टूडेंट हैं और Hindi भाषा में एक निबंध लिखना चाहते हैं तो उसके लिए क्या जरूरी है? आप किस प्रकार निबंध लिखने की शुरुआत कर सकती हैं इसकी जानकारी आपको आज के इस लेख में मिलने वाली है इसलिए इससे पार्टी को उसको शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़ें।

हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है? Hindi me nibandh kaise likhe

हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है? - Hindi me nibandh kaise likhe
Hindi me nibandh kaise likhe


निबंध लिखना बहुत आसान होता है इसमें आपको अपने अनुसार लेख लिखना प्रारंभ करना होता है आप किसी भी विषय पर एक लेख लिख सकते हैं लेकिन आप जिस भी विषय पर निबंध लिखना चाहते हैं उस विषय से जुड़ी सभी जानकारी आपको मालूम होनी चाहिए आपको जितनी ज्यादा जानकारी उस विषय के बारे में पता होगी आप का निबंध उतना अच्छा होगा, आइए जानते हैं निबंध कैसे लिखा जाता है?

हिंदी में निबंध लिखने से पहले क्या करना होगा?


आप जिस टॉपिक पर निबंध लिखना चाहते हैं उससे संबंधित आपको संपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी होगी।

अपने निबंध के विषय से संबंधित जानकारी अपने अभिभावकों से या अपने शिक्षक से प्राप्त कर सकते हैं।

किसी भी विषय पर संपूर्ण जानकारी आपको इंटरनेट के माध्यम से मिले जाएगी आपको गूगल पर जाकर अपने निबंध का विषय सर्च करना है उससे संबंधित बहुत सारी वेबसाइट की लिंक आ जाएगी किसी भी वेबसाइट में जाकर पूरा आर्टिकल पढ़ें।

जब आप वेबसाइट में जाकर अपने विषय से संबंधित निबंध लेख पढ़ लेंगे उसके बाद आपको आइडिया हो जाएगा कि किस प्रकार निबंध लिखने की शुरुआत करनी है।

हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है - Hindi Me Nibandh Kaise Likha Jata Hai


एक nibandh शुरुआत करने के लिए आपको स्वच्छ पेपर लेना है और एक कलम से लिखना प्रारंभ करना है, इस दौरान अपने मन को शांत रखें और अपना ध्यान निबंध लेखन की ओर केंद्रित करें।

निबंध का विषय लिखें


आपको जिस भी विषय पर निबंध लिखना है उसका विषय या मुख्य हेडिंग लिखें, जैसे अगर आप प्लास्टिक पर निबंध लिख रहे हैं तो हेडिंग में प्लास्टिक पर निबंध लिखना होगा, आप अपने विषय अनुसार एक हेडिंग रखें।

प्रस्तावना


सबसे पहले टॉपिक में प्रस्तावना लिखना होता है जिस दिन आपको अपने विषय से जुड़ी जानकारी देनी होती है, उदाहरण - यदि आपको गर्मी की एक शाम पर निबंध लिखना है तो गर्मी के मौसम के बारे में मुख्य जानकारी दें, कंप्यूटर पर निबंध लिखना हो तो कंप्यूटर क्या है वह जानकारी प्रस्तावना में दे सकते हैं। आपको प्रस्तावना के अंदर अपने निबंध के विषय से जुड़ी जानकारी लिखनी होगी।

अपने विचारों के अनुसार उपशीर्षक (Subheadings) रखें


Nibandh लिखते समय आपको निबंध को पढ़ने लायक बनाने के लिए उपशीर्षक देना होगा, यदि आप आधुनिक युग में कंप्यूटर का महत्व समझा रहे हैं तो उपशीर्षक में कंप्यूटर क्या है? कंप्यूटर की उपयोगिता? कंप्यूटर के अलग-अलग क्षेत्र में उपयोग? कंप्यूटर से होने वाले फायदे? कंप्यूटर के सर्वाधिक उपयोग से नुकसान? इत्यादि उपशीर्षक जोड़ने होंगे इससे आपका लेख अधिक आकर्षक लगेगा और पाठक को पढ़ने में रुचि आएगा।

निबंध के उपशीर्षक (Subheadings) में भरपूर जानकारियां दें


यदि लेखक कोई लेख लिखता है तो वह इस वक्त कब पूरा ख्याल रखता है कि उसके किताब को पढ़ने वाले लोगों को पुस्तक पढ़ने में आसानी हो, उसी प्रकार आप जब भी निबंध लिखें तो अपने पाठकों के दृष्टिकोण से भी सोचे कि क्या उन्हें निबंध पढ़ने में आसान लगेगा, क्या उन्हें सारी बातें समझ में आयेगी? इत्यादि।

निबंध पढ़ने वालों को सारी बातें सरलता से समझ में आए इसलिए आपको निबंध के उपशीर्षक पर ध्यान देना होगा, प्रत्येक उपशीर्षकों को छोटा रखें और उपशीर्षकों में भरपूर जानकारियां लिखें। अपने विषय से जुड़ी जानकारियां लिखते समय इस बात का हमेशा ख्याल रखें की उपशीर्षकों का लेख या शब्द अधिक लंबा न हो, क्योंकि आवश्यकता से अधिक लंबा लेख पाठक को बोरियत महसूस करा सकता है।

निबंध को पढ़ने योग्य सरल बनाएं


किसी भी लेखक को हमेशा इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि उनके पाठक किताबें, कविता या निबंध पढ़ने में रुचि लें, उन्हें बोरियत महसूस न हो, सारी बातें नींद आसानी से समझ में आए, जितने भी महान लेखक हैं वे अपनी लेख को सार्थक, विचारपूर्ण या अर्थपूर्ण रखते हैं, उनके हर पैराग्राफ में महत्वपूर्ण जानकारियां पढ़ने को मिलती है। 

आपको भी इस बात का ख्याल रखना होगा कि आपका लेख के प्रत्येक पैराग्राफ में अर्थपूर्ण एवं विचारपूर्ण बातें आएं, यदि आपको लगता है की आपके निबंध हेतु अनावश्यक वाक्य, शब्द लेख में आ गई हैं तो उसे हटा सकते हैं।

हिंदी में निबंध लिखते समय आपको पाठकों के दृष्टिकोण को ध्यान में रखकर उनकी सुविधानुसार लेख लिखना होगा।

अपनी हिंदी निबंध की एक बार जांच करें


जब आप भावपूर्ण निबंध लिखते हैं तब आपको प्रत्येक पैराग्राफ को देखने के बाद उसे दोबारा पढ़ कर जांच कर लेना चाहिए तत्पश्चात अगला पैराग्राफ बजाना चाहिए।

यही कार्य आपको तब करना चाहिए जब आपका लेख पूर्ण रूप से समाप्त हो जाता है, निबंध पूरा होते ही आपको शुरू से लेकर आखिरी अनुच्छेद (nibandh paragraph) तक लेख की जांच करनी चाहिए तथा त्रुटियां पाई जाने पर उसे सुधार करना चाहिए।

उपसंहर


प्रतीक निबंध में आखरी पैराग्राफ में उपसंहार उपशीर्षक दिया जाता है, जिसमें आपको निबंध का आखरी वाक्य लिखना होता है या कह सकते हैं निबंध का निष्कर्ष क्या निकलता है वह लिखना होता है।

आपके टॉपिक के अनुसार आपने जो जानकारी अपने पूरे लेख में लिखी है उन सब को पढ़ कर समझ कर उपसंहर में निष्कर्ष लिखना होता है, इसमें आप निबंध से संबंधित अपनी राय, मत अथवा कथन लिखकर लेख को समाप्त कर सकते हैं।

अब निबंध सबमिट अथवा प्रकाशित करें


यदि आप स्टूडेंट है और आपके शिक्षक ने आपको किसी विषय पर 2 पेज का निबंध लिखकर लाने को कहा है तब आप इस लेख पर बताए गए बातों को ध्यान में रखकर एक विचार पूर्ण निबंध लिख सकते हैं और उसे क्लास में सबमिट कर सकते हैं इसी तरह यदि आपको एक अर्थपूर्ण निबंध लिखकर ऑनलाइन किसी साइट पर प्रकाशित करनी हो तो वो भी कर सकते हैं।

आखरी शब्द


लेखन कार्य करना एक स्किल है जिसे आप कभी भी सीख सकते हैं आप जैसे जैसे निबंध लिखते जाएंगी आपकी स्किल पहले से बेहतर होती जायेगी, हिन्दी भाषा में निबंध अथवा हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाता है? Hindi me nibandh kaise likhe (How to write essay in Hindi?) के बारे आज के इस आर्टिकल में मैंने जानकारी दी है। दोस्तों ब्लॉग पर आपको Hindi language में निबंध पढ़ने को मिलते हैं इसलिए इस ब्लॉग को जरूर Subscribe करें।

No comments

Please do not enter any spam link in the comment box.

Powered by Blogger.