गर्मी की एक शाम पर निबंध हिंदी में - Essay on garmi ki ek shaam in hindi

मित्रों गर्मी, गरमी या ग्रीष्म रीतू में दिनभर गर्म हवाएं चलती है पर इसके बाद भी पदसंदीदा जगहों पर जाना, घूमने फिरने का अलग भी मजा आता है, दोस्तों क्या आपका भी पसंदीदा मौसम गर्मी है तो आज के लेख में आप गर्मी की एक शाम पर निबंध हिंदी में - Essay on garmi ki ek shaam in hindi पढ़ने वाले हैं, यह निबंध गर्मी की शाम पर है जहाँ लोग अपने परिवार से लम्बे देर तक बातचीत करते हैं, अच्छा वक्त बिताते हैं।  

गर्मी की एक शाम पर निबंध हिंदी में - Essay on garmi ki ek shaam in hindi

गर्मी की एक शाम पर निबंध हिंदी में - Essay on garmi ki ek shaam in hindi
Essay on garmi ki ek shaam in hindi

गर्मी का मौसम बच्चो का पसंदीदा मौसम होता है जिसमें स्कूल तथा कॉलेजों की लम्बी छुट्टी होती है, इस छुट्टी के मौके पर लोग अपने परिवार के साथ दर्शनीय स्थल, देखने लायक स्थान या हिल स्टेशन पर जाना पसंद करते हैं, गर्मियों में जामुन और आम तोड़कर खाना किसे पसंद नहीं होता है, रसीले आम का स्वाद हर कोई चखना चाहता है। गरमी की ऋतु में दिनभर गर्म हवाओं का लहर महसूस होता है, इतनी गर्मी से सबको शाम और चांदनी रात का इंतजार होता है, गर्मी की शाम सच में शीतलता का अहसास दिलाती है, आँगन में चटाई बिछाकर या कुर्सी लगाकर देर रात तक बैठकर चंदा मामा को देखना वास्तव में शीतलता प्रदान करता है। 

आकाश पूरी तरह स्वच्छ हो जाता है जिसमें कोई बादल नहीं मंडराते, नजर आते हैं तो केवल अनगिनत तारे और इन्हीं के बीच चन्द्रमा। गर्मी के मौसम में रात में आकाश में नजरें टीकाकार रखने से एक अनोखी अनुभूति होती है, कई चमकदार तारें, कोई बहुत छोटी जो धुंध सामान लगती है तो कोई साफ़ नजर आती है, कई तारे विचरण करते हुए भी दिखते हैं, इसी बीच यदि पुच्छल तारा जिसे टूटता हुआ तारा कहा जाता है वह दिखाई पड़ जाए तो सौभाग्य की बात हो जाती है, कई लोगों का मानना है की टूटते हुए तारे से जो मांगों वह ख्वाहिश पूरी होती है। 

गरमी की शाम में पूरा परिवार एकजुट होकर आंगन में या घरों की छत पर बैठते हैं, ऐसा दृश्य केवल गर्मियों की दिनों में ही देखा जा सकता है। गर्मी की शाम में लोग अपने परिवारवालों के साथ अच्छा वक्त बिताते हैं, दिनभर की बातों पर चर्चा होती है, गाँव में तो हमारे दादा -दादी अपने ज़माने के मशहूर किस्से या कहानियां सुनाते हैं जो सच में कर्णप्रिय होते हैं। भागदौड़ भरी जिंदगी किसी के पास काम से फुर्सत नहीं होता परिवार से ठीक से बात भी नहीं हो पाती लेकिन  गरमी की ऋतु में लोग अपनों के साथ अच्छा समय बिता पाते हैं, शाम को सब अपने परिवार के साथ अच्छा समय बिताते हैं, वक्त को यादगार बनाने के लिए अंताक्षरी का खेल खेलते हैं।    

गर्मी ऐसा मौसम है जिसमें लोग सर्वाधिक मजे करते हैं, अपने सपनों को पूरा करते हैं छुट्टियों में विदेशों की यात्रा करते हैं, सारा चिंता दूर हो जाता है जब दुनिया में स्थित मनोरम दृश्यों के दर्शन होते हैं, भारत के कई राज्यों में गर्मी के दिनों ठंढक का अहसास करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाता है, दही, मट्ठा, मक्खन, छाछ इत्यादि प्रमुख तौर पर गर्मियों के दिनों में सेवन किये जाते हैं। आइस क्रीम तो बच्चो, जवान तथा बुजुर्गों को इतना पसंद है की सब परिवार एक साथ बैठकर इसका लुफ्त उठाते हैं, हर यादगार पलों को कैमरे में सेव किया जा सकता है, इसी मौसम में छात्रों के लिए सुनहरा अवसर होता है नई नई जगह जाकर खूबसूरत नज़रों को देखने का।

गर्मी है तो सबका पसंदीदा मौसम लेकिन तेज़ धुप पड़ने से जमीन बंजर हो जाती है, तालाबों का पानी सूख जाते हैं इससे पशु पक्षियों को पानी नहीं मिलता है, गर्मी का आना जाना प्राकृतिक है इसमें व्यक्ति कुछ नहीं कर सकता है लेकिन पशुओं पक्षियों के लिए हमें प्याऊ जरूर बनाना चाहिए ताकि बेजबान पशु पक्षी अपनी प्यास बुझा सकें। गर्मियों में पानी की कमी न हो इसके लिए इंसानों को पहले से इंतज़ाम करना चाहिए, पानी बचाने पर ध्यान देना चाहिए, यदि हर व्यक्ति फिजूल पानी नहीं बहाएगा तो कितना सारा पानी बच जायेगा। गर्मी की ऋतू में हमें पानी के बचाव पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। 

Read also

No comments

Please do not enter any spam link in the comment box.

Powered by Blogger.